150 से अधिक बार रक्तदान कर चुके अनिल वर्मा को किया सम्मानित

अनिल वर्मा को सम्मानित करते हुए।

Honored Anil Verma who donated blood

देहरादून। Honored Anil Verma who donated blood डोईवाला ब्लॉक सभागार में जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ उत्तराखंड डोईवाला इकाई द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि उप जिलाधिकारी डोईवाला शैलेंद्र सिंह नेगी द्वारा रक्तदाता शिरोमणि अनिल वर्मा को 150 से अधिक बार रक्तदान करने हेतु शॉल ओढ़ाकर ,पुष्प गुच्छ तथा पुरस्कार प्रदान कर विशेष रूप से सम्मानित किया।

उप जिलाधिकारी श्री नेगी  ने कहा कि खून की एक-एक बूंद इतनी कीमती होती है कि उसका मूल्य नहीं चुकाया जा, खून सकता। एक स्वस्थ  व्यक्ति अपने शरीर का खून देकर दूसरे जरूरतमंद व्यक्ति को नई जिंदगी देता है।

आमतौर पर  जहां लोग अपने स्वार्थ अथवा अंधविश्वास के चलते रक्तदान करने से बचते हैं वहीं  एक शख्स ऐसा भी है जिसने 150 बार अपना ब्लड डोनेट करके अब तक हजारों लोगों की जिंदगी बचाई है।

और वो शख्स है यूथ रेडक्रास कमेटी के चेयरमैन व भारत रत्न पं० गोविंद बल्लभ पंत रक्तदाता शिरोमणि अनिल वर्मा जो विगत 55 वर्षों से लगातार रक्तदान, नेत्रदान, विकलांग सेवा, निर्धन सेवा आदि अनेक समाज सेवा के पुनीत कार्यों  हेतु धन्यवाद के पात्र हैं। ऐसे लोगों को सम्मानित करना हमारे लिए भी गौरव का अवसर  है।

उत्तराखंड जर्नलिस्ट यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष उमा शंकर मेहता ने श्री वर्मा को सम्मानित करने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि रक्तदान करने वाला व्यक्ति केवल एक मृतप्राय व्यक्ति का जीवन ही नहीं बचाता बल्कि उसके परिवार और संबंधियों की खुशियां लौटाने का पुण्य कार्य भी करता है।

विशिष्ट अतिथि  इंडियन जर्नलिस्ट यूनियन के राष्ट्रीय सचिव जय सिंह रावत ने कहा कि श्री अनिल वर्मा विगत अनेक वर्षों से रक्तदान , नेत्रदान सहित विभिन्न सामाजिक  कार्य निस्वार्थ रूप से कर रहे हैं।

उन्हें जर्नलिस्ट यूनियन के कार्यक्रम में विशेष रूप से सम्मानित किया जाना निश्चित रूडोईवाला ब्लॉक सभागार में जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ उत्तराखंड डोईवाला इकाई द्वारा आयोजित  कार्यक्रम में मुख्य अतिथि उप जिलाधिकारी डोईवाला शैलेंद्र सिंह नेगी द्वारा रक्तदाता शिरोमणि अनिल वर्मा को 150 से अधिक बार रक्तदान करने हेतु शॉल ओढ़ाकर ,पुष्प गुच्छ तथा पुरस्कार प्रदान कर विशेष रूप से सम्मानित किया।

उप जिलाधिकारी श्री नेगी  ने कहा कि खून  की एक-एक बूंद इतनी कीमती होती है कि उसका मूल्य नहीं चुकाया जा, ख़ून सकता। एक स्वस्थ व्यक्ति अपने शरीर का खून देकर दूसरे जरूरतमंद व्यक्ति को नई जिंदगी देता है।

आमतौर पर  जहां लोग अपने स्वार्थ अथवा अंधविश्वास के चलते रक्तदान करने से बचते हैं वहीं  एक शख्स ऐसा भी है जिसने 150 बार अपना ब्लड डोनेट करके अब तक  हजारों लोगों की जिंदगी बचाई है और वो शख्स है यूथ रेडक्रास कमेटी के चेयरमैन  व भारत रत्न पं० गोविंद बल्लभ पंत रक्तदाता शिरोमणि अनिल वर्मा जो विगत 55 वर्षों से लगातार रक्तदान, नेत्रदान, विकलांग सेवा, निर्धन सेवा आदि अनेक समाज सेवा  के पुनीत कार्यों  हेतु धन्यवाद के पात्र हैं। ऐसे लोगों को सम्मानित करना हमारे लिए भी गौरव का अवसर  है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here