एसटीएफ ने 25000 का इनामी गौ तस्कर को किया गिरफ्तार

पकड़ा गया आरोपी।

STF arrested cow smuggler with reward of 25000

पुलिस कर्मियोें पर गाड़ी चढ़ाकर कुचलने का भी किया था प्रयास

देहरादून। STF arrested cow smuggler with reward of 25000 पुलिस कर्मियों पर गााडी चढाकर कुचलने का प्रयास करने वाले तीन माह से फरार 25 हजार की ईनामी गौ तस्कर को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया है। यहां इसकी जानकारी देते हुए एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि गत रात्रि सीओ एसटीएफ सुमित पांडे द्वारा प्रभारी निरीक्षक एमपी सिंह के नेतृत्व में गठित एसटीएफ टीम के द्वारा 03 दिन तक चले ऑपरेशन के बाद थाना पुलभटृा, जनपद ऊधम सिंह नगर से फरार 25 हजार रुपये के ईनामी अपराधी युनुस पुत्र बुन्दन निवासी वार्ड शेरगढ़ थाना शेरगढ़ जनपद बरेली उ.प्र. को थाना शेरगढ़ क्षेत्र बरेली से गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार ईनामी अपराधी थाना पुलभटृा से धारा 307 आईपीसी व गौकशी के मुकदमें में वाँछित चल रहा था। उन्होंने बताया कि 13 अप्रैल 2023 को पुलभटृा पुलिस द्वारा एक मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसमें युनुस व उसके 3 साथियों के द्वारा 02 गाड़ियों से गौमांस की तस्करी की जा रही थी|

जब पुलभटृा पुलिस के द्वारा इन्हें शंकर फार्म कट के पास हाइवे में रोकने के प्रयास किया गया तो इनकें द्वारा पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नीयत से गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया गया लेकिन पुलिस पार्टी बालकृबाल बच गयी, पुलिस द्वारा घेराबन्दी कर दोनों गाड़ियों को रोक लिया था जिसमें एक अलीम मौके पर ही तंमचे के साथ पकड़ा गया था बाकी उसके तीन साथी मौके से भागने में कामयाब रहे थे।

पकड़े गये दोनों वाहनों से कुल 05 कुन्तल गौमांस बरामद हुआ था, तभी से युनुस फरार चल रहा था, जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ऊधम सिंह नगर द्वारा 30 जून 2023 को 25 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया था।

पिछले 03 माह में फरारी के दौरान आरोपी उत्तराखण्ड व यूपी के कई स्थानों छिपा रहा। एसटीएफ की इस कार्यवाही में दरोगा केजी मठपाल, मुख्य आरक्षी जगपाल सिंह व आरक्षी गुरवंत सिंह की विशेष भूमिका रही।

एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा यह भी बताया गया कि हमारी एक टीम विगत एक माह से इस शातिर ईनामी अपराधी युसुस पर काम कर रही थी जिसके ऊपर उ.प्र. व उत्तराखण्ड में गौकशी व मारपीट के कई मुकदमें पंजीकृत हैं। एसटीएफ ने उसको न्यायालय में पेश किया जहां से उसको न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here