Home Uttarakhand Dehradun गरीबों को उजाड़ने के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

गरीबों को उजाड़ने के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

0
गरीबों को उजाड़ने के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन
तहसील कार्यालय में प्रदर्शन करते कांग्रेस कार्यकर्ता।

Congress workers demonstrated against the uprooting of the poor

तहसील प्रशासन के माध्यम से राज्यपाल को भेजा ज्ञापन
हिटलरशाही कि परिचायक बनी हुई है उत्तराखंड सरकारः लक्ष्मी कपरूवान अग्रवाल

विकासनगर।Congress workers demonstrated against the uprooting of the poor पछवादून कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार पर अतिक्रमण हटाने के नाम पर गरीबों को उजाड़ने का आरोप लगाते हुए तहसील कार्यालय में प्रदर्शन किया।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार पूरी तरह से असंवेदनशील हो चुकी है। सरकार व प्रशासन मनमानी पर उतर आए हैं। कार्यकर्ताओं ने इस संबंध में तहसील प्रशासन के माध्यम से राज्यपाल को एक ज्ञापन भी भेजा।

कार्यकर्ता कांग्रेस की पछवादून जिलाध्यक्ष लक्ष्मी कपरूवान अग्रवाल के नेतृत्व में विकासनगर तहसील कार्यालय में एकत्रित हुए और सरकार व प्रशासन की मनमानी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष लक्ष्मी कपरूवान अग्रवाल ने कहा कि पछवादून क्षेत्र में उत्तराखंड सरकार द्वारा नदी, नालांे कि जमीन के नाम पर बस्तियों को उजाड़ने का कार्य किया जा रहा है।

उत्तराखंड सरकार हिटलरशाही की परिचायक बनी हुई है। अतिक्रमण के नाम पर बस्तियों पर बुलडोजर चलाने का काम किया जा रहा है। जगह-जगह जिस तरह से प्रशासन बेलगाम होकर गरीबांे को उजाड़ रहा है यह कार्यवाही विचलित कर देने वाली है।

लक्ष्मी कपरूवान अग्रवाल ने कहा कि उत्तराखंड सरकार पूरी तरह से असंवेदनशील हो चुकी है, जिन्हें भी उजाड़ा जा रहा है उनके घरों, दुकानों में पानी, बिजली के वैध कनेक्शन हंै। उन्हें सरकारी राशन भी दिया जाता है फिर भी उन्हें अतिक्रमणकारी कहकर उजाड़ने पर तुली है। सरकार कि यह कार्यवाही सरासर अन्यायपूर्ण है।

लक्ष्मी कपरूवान अग्रवाल ने स्थानीय प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि स्थानीय प्रशासन द्वारा कोर्ट में सही तथ्य प्रस्तुत नहीं किए गये, जिसका खामियाजा सदियों से बसी बस्तियों के बाशिंदों को भुगतना पढ़ रहा है। तमाम लोगों कि रोजी रोटी दशकांे से इन जमीनांे पर चल रही है।

इनको मालिकाना हक देने के बजाय सरकार गरीबों के आशियानों पर बुलडोजर चला रही है। कहा कि हाईकोर्ट के आदेश नदी पर हुए अतिक्रमण को खाली कराने को किये गए हैं, लेकिन स्थानीय प्रशासन द्वारा गलत तथ्य पेश किये जाने से विकासनगर, हरबर्टपुर कि जनता के सामने संकट पैदा हो गया है।

जिस जगह पर दो सौ साल पहले नदी बहती थी, उस जगह का चिन्हीकरण नदी कि भूमि के तौर पर किया गया है, जबकि वर्तमान में यमुना विकासनगर शहर से साढ़े तीन किमी दूर बहती है। लक्ष्मी कपरूवान अग्रवाल ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द इस अभियान को नहीं रोका गया और जो लोग उजाड़े गये हैं उन सबको बसाने का काम नहीं किया गया तो कांग्रेस स्थानीय लोगांे के साथ विशाल धरना प्रदर्शन करेगी।

इस दौरान लक्ष्मी अग्रवाल, वरिष्ठ कॉग्रेस नेता संजय जैन, विकास शर्मा, बीना शर्मा, फुरकान अहमद, पम्मी देवी,नीलम थापा,कुसुम नेगी, आशीष पुंडीर, भास्कर चुग,अभिनव ठाकुर,राजेश पीटर,भुवन शर्मा,विजय कुमार,राकेश राठौर,मायाराम नौटियाल,अनूप कपिल, पुष्कर सिंह रावत,जयपाल, सरोज, गोवर्धन प्रसाद डोभाल,सुंदर सिंह,ऋषि त्यागी,अशोक, जाबिर हसन, आंनद सिंह, भगवान सिंह, शहजाद अली, साकिल बेग,भारत,शांति सिंह,मोनू,दिनेश,अब्दुल खालिक, निरंकार शर्मा ,डीके बनर्जी, सुरेंद्र शर्मा,सुनील कुमार, साकिब आदि उपस्थित रहे।

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here