हरियाणा नूंह हिंसा के बाद उत्तराखंड में अलर्ट

बढ़ी पुलिस गश्त, मिश्रित आबादी वाले इलाकों पर रखी जा रही नजर
पुलिस मुख्यालय ने सतर्कता बरतने के दिए निर्देश

देहरादून। Alert in Uttarakhand after Haryana Nuh violence हरियाणा के नूंह में हुई घटना के बाद उत्तराखंड में भी पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर है। नूंह की घटना के बाद पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों को दिशा निर्देश जारी करते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरतने के आदेश जारी किये हैं। पुलिस मुख्यालय ने खास तौर पर मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों को चिन्हित कर यहां निगरानी के आदेश दिये हैं।

हरियाणा में सांप्रदायिक हिंसा के मामले में जहां हरियाणा पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी गई है तो वहीं दूसरे राज्यों में भी इसका सीधा असर दिखाई देने लगा है। देश के कुछ दूसरे हिस्सों में नूंह हिस्सा के बाद लड़ाई झगड़े की खबरें सामने आई।

इस तरह की घटनाओं के बाद उत्तराखंड पुलिस मुख्यालय ने भी राज्य भर में अधिकारियों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। मामले में सभी जिलों को लिखित रूप से आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। खास बात यह है कि इस दौरान बजरंग दल के प्रदर्शन के दौरान कानून व्यवस्था को दुरुस्त रखने के लिए कहा गया है। साथ ही इंटेलिजेंस से भी समन्वय स्थापित कर सूचनाओं के आधार पर कार्यवाही के लिए भी कह दिया गया है।

दरअसल, उत्तराखंड में सभी जिलों को सांप्रदायिक दंगों के बाद अलर्ट पर रहने के लिए तो कहा गया है। सबसे ज्यादा मिश्रित आबादी क्षेत्रों में निगरानी रखने के लिए निर्देश दिए गए हैं। बजरंग दल की तरफ से देशव्यापी प्रदर्शन का आह्वान किया गया है। ऐसे में विरोध प्रदर्शन के दौरान हथियारों की नुमाइश ना हो इसके लिए भी पुलिस विभाग विशेष नजर रखेगा।

इस मामले पर अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था एपी अंशुमन ने बताया राज्यभर में पुलिस अधिकारियों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। मिश्रित आबादी को चिन्हित करते हुए यहां विशेष एहतियात बरतने और गश्त बढ़ाने के लिए भी कहा गया है। उत्तराखंड के पुरोला में भी इससे पहले सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की कोशिश हो चुकी है। लिहाजा, पुलिस इन सभी क्षेत्रों को चिन्हित कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here