Home Uttarkashi पुरोला में 11 दुकानदारों ने किया पलायन

पुरोला में 11 दुकानदारों ने किया पलायन

0
पुरोला में 11 दुकानदारों ने किया पलायन

11 shopkeepers migrated in Purola

दशकों से बसे व्यापारियों बोले पुरोला हमारी जन्मभूमि, यहां की मिट्टी से प्यार

पुरोला/उत्तरकाशी। 11 shopkeepers migrated in Purola पिछले माह 26 मई को पुरोला से नाबालिक लड़की को भगाने के प्रकरण से उपजे जन आक्रोश को लेकर दो सप्ताह से अधिक समय होने के बावजूद भी समुदाय विशेष के लोग अपनी दुकानों को खोलने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं। यही वजह रही कि अब तक पुरोला से 11 दुकानदारों ने दुकानें खाली कर अपना सामान उठा लिया है।

वहीं प्रशासन की पहल पर पुरोला में शांति बहाली की प्रक्रिया शुरु हो गयी है। उपजिलाधिकारी पुरोला देवानंद शर्मा की अध्यक्षता में संपन्न बैठक में स्थानीय व्यापार मंडल ने अल्पसंख्यक समुदाय के दुकानदारों से कहा है कि वे अपनी दुकानें खोलें और व्यापार मंडल उन्हें हर तरह से सहयोग करेगा।

अभी तक पुरोला में 3 क्रोकरी, एक मोबाइल रिपेयरिंग, एक फर्नीचर्स, 1 रजाई गद्दा, 1 आइस्क्रीम, 1 सब्जी भंडार व गारमेंट्स शॉप सहित कुल 11 दुकानदारों ने दुकानें खाली कर अपना सामान अनयन्त्र ले गये हैं। जन आक्रोश को देखते हुए रविवार को भी एक गारमेंट्स व्यापारी सामान समेटते दिखे।

पुरोला में रजाई गद्दा, फर्नीचर, मोबाइल, मेकेनिक, बारबर व क्रॉकरी आदि का व्यवसाय करने वाले समुदाय विशेष की लगभग 3 दर्जन दुकानदार थे, विगत माह में घटित नाबालिक लड़की प्रकरण के बाद पुरोला के साथ जनपद के विभिन्न हिस्सों में हुए धरना प्रदर्शन से सम्पूर्ण रंवाई घाटी में जनाक्रोश बढ़ते देख समुदाय विशेष के कारोबारी अपनी दुकानें बंद कर अन्य विस्थापित होने को मजबूर है, जबकि स्थायी तौर पर दशकों से क्षेत्र में अपना कारोबार करने वाले कई व्यापारी यंही हैं।

हालांकि दुकाने उन्होंने भी अभी बंद रखी हैं। दशकों पहले आकर बसे व्यापारियों का कहना है कि पुरोला उनकी जन्म व कर्मभूमि है, वे यहां की मिट्टी से उतना ही प्यार करते हैं जितना कि यहां निवास करने वाले अन्य लोग।

व्यापार मंडल ने दिया सहयोग का भरोसा

उत्तरकाशी। प्रशासन की पहल पर पुरोला में शांति बहाली की प्रक्रिया शुरु हो गयी है। उपजिलाधिकारी पुरोला देवानंद शर्मा की अध्यक्षता में संपन्न बैठक में स्थानीय व्यापार मंडल ने अल्पसंख्यक समुदाय के दुकानदारों से कहा है कि वे अपनी दुकानें खोलें और व्यापार मंडल उन्हें हर तरह से सहयोग करेगा।

गौरतलब है कि पुरोला में पिछले दिनों हुई घटना के सम्बन्ध में उप जिलाधिकारी पुरोला की अध्ययक्षता में तहसील कार्यालय पुरोला में व्यापार मण्डल, पुरोला, जनप्रतिनिधिगण एवं पुलिस उपाधीक्षक बडकोट, थानाध्यक्ष पुरोला की उपस्थिति में एक सामुहिक बैठक की गयी। बैठक में व्यापार मण्डल पुरोला के पदाधिकारियों ने अवगत कराया कि कोई भी दुकानदार अपने विवेक से दुकान खोल सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here