Home Uttarakhand Dehradun बाहुबल के प्रयोग से लोकतंत्र की हत्या कर रही भाजपाः माहरा

बाहुबल के प्रयोग से लोकतंत्र की हत्या कर रही भाजपाः माहरा

0
बाहुबल के प्रयोग से लोकतंत्र की हत्या कर रही भाजपाः माहरा

बाहुबल के प्रयोग से लोकतंत्र की हत्या कर रही भाजपाः माहरा
महाराष्ट्र के राजनैतिक घटनाक्रम को बताया निन्दनीय
भाजपा के कृत्यों से संविधान, लोकतांत्रिक व्यवस्था की गरिमा को पहुंची चोट ,जनता देगी जवाब


देहरादून।
उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने महाराष्ट्र के राजनैतिक घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी भाजपा की ओर से महाराष्ट्र में लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकार को धनबल के सहारे गिराकर शिवसेना के बागी नेताओं से गठबन्धन कर सरकार बनाने की पूरी प्रक्रिया की घोर निन्दा करती है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की ओर से केन्द्र में सत्तारूढ होने के बाद सत्ता बल, धन बल व बाहुबल का प्रयोग कर लोकतंत्र की हत्या करने ओर प्रजातंत्र को कलंकित करने का काम लगातार किया जा रहा है।


प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ मीडिया पैनलिस्ट एवं निवर्तमान मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि के माध्यम से जारी बयान में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि महाराष्ट्र में साम-दाम-दण्ड भेद की नीति अपनाकर शिवसेना के बागी विधायकों के साथ भाजपा समर्थित सरकार का गठन संविधान विरोधी और अलोकतांत्रिक है। भाजपा ने महाराष्ट्र में संविधान और लोकतंत्र की पवित्र भावनाओं की हत्या करने का काम किया है। कंाग्रेस पार्टी का विधानसभा, भारत के संविधान व देश की संवैधानिक संस्थाओं पर पूर्ण विश्वास है। भारतीय जनता पार्टी ने देश की राजनीति को जिस तरह से कलंकित और कलुषित करने का काम किया, देश की प्रबुद्ध जनता उनके द्वारा किये गये इन पापों का आने वाले समय में निश्चित रूप से संज्ञान लेगी, क्योंकि लोकशाही एवं प्रजातांत्रिक पद्धति में जनता की अदालत सर्वाेच्च अदालत है। उन्होंने कहा कि भाजपा द्वारा उत्तराखण्ड, अरूणाचल प्रदेश, उडीसा, गोवा, विहार तथा दिल्ली प्रदेश की सरकार को इसी प्रकार अलोकतांत्रिक रूप से षडत्रयंत्र कर गिराने का भी कुत्सित प्रयास किया गया। मगर उत्तराखण्ड में सर्वाेच्च न्यायालय के निर्णय से लोकतंत्र, भारतीय संविधान व संवैधानिक संस्थाओं की जीत हुई थी।


माहरा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने न्यायालयों के पूर्व के निर्णयों से भी कोई सबक नहीं लिया तथा अपनी राजनैतिक महत्ताकांक्षा के लिए लोकतांत्रिक तरीके से चुनी हुई सरकारों को गिराकर लोकतंत्र की हत्या करने तथा संविधान के विरूद्ध राज्य सरकारों का गठन करने का घृणित कार्य किया जा रहा है। पहले मध्य प्रदेश और अब महाराष्ट में केन्द्र की सत्ता के बल पर विपक्षी दलों की सरकार गिराने तथा राजस्थान में चुनी हुई सरकार गिराने का जिस प्रकार प्रयास किया गया उसे लोकतंत्र के लिए स्वस्थ परम्परा नहीं माना जा सकता है। भाजपा के कृत्यों से संविधान, लोकतांत्रिक व्यवस्था तथा देश की गरिमा को जो चोट पहुंची है उसका जवाब जनता उन्हें जरूर देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here