Home Business पर्यटन के बढ़ावे को रोप-वे विकसित करने की जरूरतः सीएस

पर्यटन के बढ़ावे को रोप-वे विकसित करने की जरूरतः सीएस

0
पर्यटन के बढ़ावे को रोप-वे विकसित करने की जरूरतः सीएस
देहरादून। मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधु गुरुवार को सचिवालय स्थित अपने सभागार में पर्यटन व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ मानसखण्ड कॉरिडोर विकसित करने ओर रोप-वे निर्माण परियोजनाओं के चिन्हीकरण एवं क्रियान्वयन के सम्बन्ध में बैठक करते हुए।

पर्यटन के बढ़ावे को रोप-वे विकसित करने की जरूरतः सीएस
गढ़वाल-कुमाऊं की कनेक्टिविटी को बढ़ाने पर जोर
मानसखण्ड कॉरिडोर व रोप-वे निर्माण परियोजनाओं के सम्बन्ध में बैठक आयोजित


देहरादून।
मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधु ने गुरुवार को सचिवालय स्थित अपने सभागार में पर्यटन व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ मानसखण्ड कॉरिडोर विकसित करने ओर रोप-वे निर्माण परियोजनाओं के चिन्हीकरण एवं क्रियान्वयन के सम्बन्ध में बैठक ली। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मानसखण्ड कॉरिडोर के तहत कुमाऊं मंडल में स्थित महत्त्वपूर्ण मंदिरों को जोड़ने को अच्छी गुणवत्ता की सड़कों के निर्माण के प्रस्ताव तैयार किया जाए। उन्होंने इसमें पर्यटन की दृष्टि से विकसित किए जा सकने वाले क्षेत्रों को भी शामिल करने के निर्देश दिए।


मुख्य सचिव ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि गढ़वाल एवं कुमाऊं की कनेक्टिविटी को बढ़ाने के क्षेत्र में भी कार्य किया जाए। प्रदेश की ऐसे सभी मार्गों, जिनसे गढ़वाल एवं कुमाऊं को जोड़ा जा सके, को विकसित करने हेतु भी कार्ययोजना तैयार की जाए। इसके साथ ही, मुख्य सचिव ने पर्यटन की दृष्टि से प्रदेश को विकसित किए जाने हेतु रोप-वे विकसित किए की आवश्यकता बताई। इसके लिए उन्होंने पर्वतमाला योजना के अन्तर्गत गढ़वाल एवं कुमाऊं क्षेत्र में रोप-वे निर्माण की सम्भावनाओं को तलाशते हुए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर प्रमुख सचिव लोनिवि आरके सुधांशु व सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर सहित अन्य उच्चाधिकारी भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here